ताजा खबर
सतर्कता ही संचारी रोगों से बचाव का बेहतर उपाय- डा. नीलकंठ तिवारी   ||    कुपोषण की रोकथाम के लिए शुरू हुआ ‘सम्भव’ अभियान,30 सितंबर तक चलेगा वृहद जन जागरूकता अभियान   ||    सुश्री अंशिका दीक्षित उप जिलाधिकारी, सदर बनी, पुष्पेंद्र पटेल उप जिलाधिकारी, पिण्डरा बने, राजीव राय ...   ||    विधिक सचिव ने जिला कारागार का किया निरीक्षण, बंदियों की समस्याओं को सुना और निवारण हेतु अधीक्षक जिला...   ||    पीएम मोदी की जनसभा को तैयारियों को लेकर रोहनिया स्थित भाजपा क्षेत्रीय कार्यालय में जनप्रतिनिधियों, क...   ||    पत्रकारों एवं अधिवक्ताओं ने एडिशनल सीपी से मुलाकात की   ||    जिले में गुरुवार को फिर लगेगी ‘पोषण पाठशाला’वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए पाठशाला में मिलेगी शिक्षा   ||    प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) पूर्णतः निःशुल्क है, इसमें किसी भी प्रकार का कोई शुल्क देय नहीं है   ||    आकाशीय बिजली गिरने से मान्धातेश्वर मंदिर के शिखर का कलश हुआ छतिग्रस्त   ||    कमिश्नर ने मंडल में औद्योगिक वातावरण को मजबूत करने पर दिया जोर   ||   

लॉकडाउन %3A वाराणसी में दूसरे दिन भी सड़कों पर पसरा सन्नाटा, दुकानें-प्रतिष्ठान रहे बंद

-खाली सड़कों पर बच्चों ने खेला क्रिकेट, आ-जा रहे वाहनों से टूट रहा सन्नाटा
- महामारी में लोगों ने खुद को घरों में किया बंद
 
वाराणसी, 25 अप्रैल। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को रोकने के लिए लागू किए गए सप्ताहांत लॉकडाउन के दूसरे दिन रविवार को सड़कों और गलियों में भी सन्नाटा पसरा रहा। गंगातट और गंगा उस पार रेती में भी यहीं नजारा रहा। सुबह से पूर्वाह्न 11 बजे तक तो सड़कों पर कुछ लोग और वाहन आते-जाते रहे। लेकिन दोपहर होते-होते सड़कों पर सियापा पसर गया। आ जा रहे वाहनों से ही पसरा सन्नाटा भंग हो रहा था। नगर के सर्वाधिक व्यस्त सड़क गोदोलिया, नईसड़क, लहुराबीर, सिगरा, रविन्द्रपुरी, लहरतारा ग्रामीण क्षेत्र के रोहनिया, राजातालाब, रानी बाजार, मोहनसराय, अखरी, लठिया, मिर्जामुराद, कपसेठी, जंसा, चौबेपुर, चोलापुर, बाबतपुर एयरपोर्ट रोड पर भी सड़कों पर सन्नाटा रहा। 
 
 शहर और ग्रामीण अंचल में मेडिकल की दुकानों को छोड़कर सभी दुकानें और निजी प्रतिष्ठान बंद रहे। ऐसे में खाली सड़कों पर छोटे-छोटे बच्चे क्रिकेट खेलते भी नजर आये। कई जगह अभिभावकों ने दोपहर में बच्चों को सड़क पर खेलते देख फटकार भी लगाई और उन्हें घर ले गये। लॉकडाउन में लोग ट्रेन और रोडवेज की बसों को पकड़ने के लिए पैदल आते-जाते दिखे।  कुछ ऑटो और ई-रिक्शा भी सवारियों को लेकर आते-जाते रहे। रोडवेज और निजी बसें क्षमता के पचास प्रतिशत कम सवारियों को लेकर आती जाती दिखीं। 
 
 लॉकडाउन का ऑटो और ई रिक्शा वालों ने फायदा उठाकर मनमाना भाड़ा भी वसूल किया। बताते चले कोरोना के दूसरे लहर में महामारी बेकाबू हो गई है। इस पर नियंत्रण के लिए व्यापारी संगठनों ने खुद से और प्रदेश सरकार ने सप्ताहांत लॉकडाउन लगा दिया है। 
 
 उधर, लॉकडाउन के दूसरे दिन दोपहर तक वाराणसी में 938 नये कोरोना संक्रमित मिल गये थे। इन मरीजों को मिलाकर जिले में अब तक 55897 मरीज हो गये। इसमें सक्रिय मरीज 17830 है। अब तक 491 मरीजों की मौत हो चुकी है। कुल 37576 मरीज स्वस्थ हो चुके है।

Posted On:Monday, April 26, 2021


बनारस और देश, दुनियाँ की ताजा ख़बरे हमारे Facebook पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें,
और Telegram चैनल पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

You may also like !

मेरा गाँव मेरा देश

अगर आप एक जागृत नागरिक है और अपने आसपास की घटनाओं या अपने क्षेत्र की समस्याओं को हमारे साथ साझा कर अपने गाँव, शहर और देश को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो जुड़िए हमसे अपनी रिपोर्ट के जरिए. banarasvocalsteam@gmail.com

Follow us on

Copyright © 2021  |  All Rights Reserved.

Powered By Newsify Network Pvt. Ltd.