ताजा खबर
महाप्रबंधक अंजली गोयल ने फ्लैग ऑफ कर रेल सुरक्षा बल रैली को किया रवाना   ||    सतर्कता ही संचारी रोगों से बचाव का बेहतर उपाय- डा. नीलकंठ तिवारी   ||    कुपोषण की रोकथाम के लिए शुरू हुआ ‘सम्भव’ अभियान,30 सितंबर तक चलेगा वृहद जन जागरूकता अभियान   ||    सुश्री अंशिका दीक्षित उप जिलाधिकारी, सदर बनी, पुष्पेंद्र पटेल उप जिलाधिकारी, पिण्डरा बने, राजीव राय ...   ||    विधिक सचिव ने जिला कारागार का किया निरीक्षण, बंदियों की समस्याओं को सुना और निवारण हेतु अधीक्षक जिला...   ||    पीएम मोदी की जनसभा को तैयारियों को लेकर रोहनिया स्थित भाजपा क्षेत्रीय कार्यालय में जनप्रतिनिधियों, क...   ||    पत्रकारों एवं अधिवक्ताओं ने एडिशनल सीपी से मुलाकात की   ||    जिले में गुरुवार को फिर लगेगी ‘पोषण पाठशाला’वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए पाठशाला में मिलेगी शिक्षा   ||    प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) पूर्णतः निःशुल्क है, इसमें किसी भी प्रकार का कोई शुल्क देय नहीं है   ||    आकाशीय बिजली गिरने से मान्धातेश्वर मंदिर के शिखर का कलश हुआ छतिग्रस्त   ||   

जटिल ऑपरेशन कर 21 माह के मासूम के गुर्दे से निकाला पथरी।

Posted On:Friday, May 20, 2022

वाराणसी। काशी हिंदू विश्वविद्यालय के सर सुंदरलाल अस्पताल के यूरोलॉजी विभाग ने एक जटिल ऑपरेशन कर महज 21 माह के मासूम के गुर्दे से पथरी निकाला है। सफल ऑपरेशन के बाद चिकित्सकों ने उसे अपने देखरेख में रखा जहां तीन दिन में ही बच्चा रिकवर कर लिया है। चिकित्सकों ने बच्चे को डिस्चार्ज कर दिया है।

यूरोलॉजी विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डाक्टर यशस्वी सिंह ने बताया कि पूर्वांचल में पहली बार एक एक्कीस महीने के बच्चे के बायें गुर्दे में पथरी का जिसका आकार 3x2.5 सेमी था, उसका सफलतापूर्वक दूरबीन विधि से ऑपरेशन किया गया। इस प्रक्रिया को ट्यूबलेस मिनी परक्यूटेनिया नेफ्रोलिथोटॉमी कहा जाता है और इस प्रक्रिया को छोटे बच्चों में करना एक अत्यन्त ही जटिल ऑपरेशन है। डॉ. यशस्वी सिंह ने आगे बताया कि मरीज की रिकवरी अच्छी हुई और ऑपरेशन के तीसरे दिन उसे स्वस्थ हालत में घर रवाना किया गया।

डाक्टर यशस्वी सिंह ने बताया कि ऑपरेशन की अगुवाई प्रोफेसर एंड हेड डिपार्टमेण्ड ऑफ यूरोलॉजी समीर त्रिवेदी ने की। डॉ. उज्ज्वल कुमार पाठक, डॉ. यशस्वी सिंह की टीम ने इस जटिल ऑपरेशन में निश्चेतना एवं बालरोग विभाग का परस्पर सहयोग प्राप्त हुआ। सफलता के इसी क्रम को जारी रखते हुए डिपार्टमेंट ने आगे 14 माह के दो बच्चों के गुर्दे की पथरी के ऑपरेशन की योजना बनाई है। पूर्वांचल की जनता को यह सौगात देते हुए डॉ. यशस्वी सिंह ने यह बताया कि अब पूर्वांचल की जनता को इस जटिल गुर्दे की पथरी के ऑपरेशन के लिए किसी बड़े महानगर का रूख नहीं करना पड़ेगा और इसको सफलतापूर्वक बीएचयू में ही सम्पन्न किया जायेगा।


बनारस और देश, दुनियाँ की ताजा ख़बरे हमारे Facebook पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें,
और Telegram चैनल पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें



You may also like !

मेरा गाँव मेरा देश

अगर आप एक जागृत नागरिक है और अपने आसपास की घटनाओं या अपने क्षेत्र की समस्याओं को हमारे साथ साझा कर अपने गाँव, शहर और देश को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो जुड़िए हमसे अपनी रिपोर्ट के जरिए. banarasvocalsteam@gmail.com

Follow us on

Copyright © 2021  |  All Rights Reserved.

Powered By Newsify Network Pvt. Ltd.