ताजा खबर
"सार्वजनिक स्थलों से बैनर, पोस्टर हटाने का कार्य प्रारंभ कर दिया जाए, वॉल पेंटिंग किसी के द्वारा भी ...   ||    8 दिसंबर को प्रातः 8:30 बजे 39 जीटीसी फुटबॉल ग्राउंड में आयोजित होगा वेटरनस सैनिक सम्मेलन   ||    पैच वर्क हेतु मोबाइल टास्क फोर्स का किया गया गठन   ||    नगर निगम ने नगर के सभी भवनों का विवरण किया गया आनलाइन   ||    घर के कच्चे मकान में लटकता मिला किशोरी का शव, 3 दिन से थी लापता   ||    संदिग्ध हाल में पेड़ से लटकता मिला युवक का शव, जांच में जुटी पुलिस   ||    उ.प्र. राज्य बाल अधिकार संरक्षण के सदस्यों ने सनबीम स्कूल का निरीक्षण कर वहां घटित घटना को जघन्य कृत...   ||    राजेन्द्र प्रसाद घाट पर सजी पीएम मोदी के विकास कार्यों की झांकियां   ||    नंद गोपाल नंदी ने अखिलेश यादव पर साधा निशाना।   ||    सुरक्षा व्यवस्था में चौकन्नी पुलिस, 4 थानों से 7 लोगों पर की गुंडा एक्ट की कार्यवाही   ||   

भारत ने 2020 के अप्रैल-अक्टूबर के मुकाबले साल 2021 में कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद के निर्यात को 14.7 बढ़ाया

Posted On:Friday, November 19, 2021

नई दिल्ली, 19 नवंबर (न्यूज हेल्पलाइन)     भारत कोरोना से ही नहीं कोरोना के कारण अर्थव्यवस्था पर पड़े खराब प्रभाव से भी अब धीरे-धीरे उबरने लगा है। इसका प्रमाण है भारत के निर्यात में लगातार होती वृद्धि। ताज़ा रिपोर्ट कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद के संदर्भ में आया है। 

कृषि उपज के निर्यात की संभावनाओं को बढ़ावा देने के लिए, भारत ने चालू वित्त वर्ष, 2021-22 की अप्रैल-अक्टूबर की अवधि में पिछले वित्त वर्ष  2020-21 की इसी सात महीने की अवधि की तुलना में कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों के निर्यात में उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज की है। वाणिज्यिक खुफिया और सांख्यिकी महानिदेशालय (DGCI&S) द्वारा जारी त्वरित अनुमानों के अनुसार, अप्रैल-अक्टूबर 2021 के दौरान कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीईडीए) उत्पादों के कुल निर्यात में  पिछले वर्ष की समान अवधि के मुकाबले समूल रूप से 14.7 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई।

रिपोर्ट में बताया गया है कि एपीडा उत्पादों का कुल निर्यात अप्रैल-अक्टूबर 2020 में 10,157 मिलियन अमरीकी डॉलर से बढ़कर अप्रैल-अक्टूबर 2021 में 11,651 मिलियन अमरीकी डॉलर हो गया। यह वृद्धि और भी विशेष इस लिए हो जाती है क्योंकि यह COVID-19 प्रतिबंधों के बावजूद हासिल की गई है। कृषि-निर्यात में उल्लेखनीय वृद्धि को देश के कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने पर जोर देकर किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार की प्रतिबद्धता के प्रमाण के रूप में देखा जा सकता है। 

DGCI&S के त्वरित अनुमानों के अनुसार, ताजे फलों और सब्जियों के निर्यात में अमरीकी डालर के संदर्भ में 11.6 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई, जबकि प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों जैसे अनाज की तैयारी और विविध प्रसंस्कृत वस्तुओं के निर्यात में 29 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई। अप्रैल-अक्टूबर 2020-21 में, ताजे फल और सब्जियों का निर्यात 1374.59 मिलियन अमरीकी डॉलर का था जो अप्रैल-अक्टूबर 2021-22 में बढ़कर 1534.05 मिलियन अमरीकी डॉलर का हो गया। 

इस रिपोर्ट के अनुसार भारत ने अन्य अनाजों के निर्यात में 85.4 प्रतिशत की उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज की, जबकि मांस, डेयरी और पोल्ट्री उत्पादों के निर्यात में चालू वित्त वर्ष (2021-22) के पहले सात महीनों में 15.6 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई। अन्य अनाजों का निर्यात अप्रैल-अक्टूबर 2020 में 274.98 मिलियन अमरीकी डॉलर से बढ़कर अप्रैल-अक्टूबर 2021 में 509.77 मिलियन अमरीकी डॉलर हो गया और मांस, डेयरी और पोल्ट्री उत्पादों का निर्यात अप्रैल-अक्टूबर 2020 में 1978.6 मिलियन अमरीकी डॉलर से बढ़कर अप्रैल में 2286.32 मिलियन अमरीकी डॉलर हो गया।


बनारस और देश, दुनियाँ की ताजा ख़बरे हमारे Facebook पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें,
और Telegram चैनल पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें



You may also like !

मेरा गाँव मेरा देश

अगर आप एक जागृत नागरिक है और अपने आसपास की घटनाओं या अपने क्षेत्र की समस्याओं को हमारे साथ साझा कर अपने गाँव, शहर और देश को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो जुड़िए हमसे अपनी रिपोर्ट के जरिए. banarasvocalsteam@gmail.com

Follow us on

Copyright © 2021  |  All Rights Reserved.

Powered By Newsify Network Pvt. Ltd.