ताजा खबर
अमेठी में हटाया मोदी का पोस्टर, बीजेपी नेताओं की आपस में झड़प   ||    दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली में रखा 3 अंडरपास का शिलान्यास !   ||    निवेशकों को रिझाने के लिए ओडिशा के मुख्यमंत्री जाएंगे बेंगलुरू, करेंगे बैठक !   ||    यूके में इलेक्ट्रिक कार चार्जिंग स्टेशन का उपयोग करने की लागत मई के बाद से 42% बढ़ी !   ||    जानिएं कैसा रहा क्रिप्टोक्यूरेंसी मूल्य आज !   ||    लगातार पांचवे दिन घटा-बढ़ा सेंसेक्स, निफ्टी , जानिए कैसा रहा आज का दिन !   ||    लाइव आकर माही ने किया बड़ा ऐलान, बताया कैसे जीतेंगे वर्ल्ड कप, जानिए !   ||    केएल राहुल के समर्थन में उतरे सुनील गावस्कर, नन्हे मास्टर ने कह डाली ऐसी बात की.....!   ||    दीप्ति शर्मा की मांकडिंग पर मुरलीधरन ने दिया ये विवादित बयान, जानिए !   ||    विश्वनाथ धाम में अब मोबाइल फोन ले जाने की मिली अनुमति लेकिन मुख्य परिसर में जाने से पहले जमा करना हो...   ||   

Pepsi के बाद अब Coca-Cola ने रूस में अपने बिजनेस को किया स्थगित

Posted On:Wednesday, March 9, 2022

मास्को (रूस), 9 मार्च (न्यूज़ हेल्पलाइन)     यूक्रेन के ऊपर एकतरफा हमले (Ukraine Russia War) के बाद पश्चिमी देशों ने रूस पर आर्थिक शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पश्चिमी देशों के इस अभियान में पश्चिमी देशों की कंपनियां भी साथ दे रही है। इस कड़ी नें Pepsi के बाद अब Coca-Cola कंपनी ने रूस में अपने बिजनेस को किया स्थगित कर दिया है।

कोका-कोला कंपनी ने रूस में अपने कारोबार को यह कहते हुए निलंबित कर दिया कि हमारा दिल उन लोगों के साथ है जो यूक्रेन में इन दुखद घटनाओं से अचेतन प्रभाव झेल रहे हैं। इससे पहले पेप्सिको (Pepsi) ने रूस में पेप्सी-कोला (Coca-Cola) और अन्य वैश्विक पेय ब्रांडों के उत्पादन और बिक्री को निलंबित करने की घोषणा कर दी थी।

कल 8 मार्च को पेट्रोलियम कंपनी शेल (Shell) ने भी सभी रूसी तेल और गैस बिजनेस से हटने के इरादे की घोषणा की थी। Shell ने अपनी घोषणा में कहा था कि नए सरकार के मार्गदर्शन के साथ गठबंधन किया। तत्काल पहले कदम के रूप में, हम रूस में कच्चे तेल, बंद सर्विस स्टेशनों, विमानन ईंधन और स्नेहक संचालन की सभी स्पॉट खरीद को रोक देंगे। 

विश्व के लगभग 10% पेट्रोलियम क्रूड ऑयल के उत्पादक देश रूस के लिए यह एक बहुत बड़ा झटका था। खबरे तो यहां तक आ रही है कि युद्ध से उत्पन्न आर्थिक जरूरतों की पूर्ति के लिए रूस सस्ते दरों ओर भारत सहित कई देशों को पेट्रोलियम क्रूड ऑयल (crude oil price) देने को भी राजी है।

कल 8 मार्च को ही रूस पर लगे आर्थिक प्रतिबंधों के श्रृंखला में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन (Joe Biden) ने घोषणा की थी कि हम रूसी गैस, तेल और ऊर्जा के सभी आयातों पर प्रतिबंध लगा रहे हैं।

यूरोपीय आयोग (European Commission) के अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने भी RePowerEU के शीर्षक के साथ कल 8 मार्च को घोषणा की थी कि हमारी गैस आपूर्ति में विविधता लाएगा, नवीकरणीय रोल-आउट को गति देगा, ऊर्जा दक्षता में सुधार करेगा और गैस को हीटिंग और पावर में बदल देगा। यह वर्ष के अंत से पहले रूसी गैस की हमारी मांग को 2/3 तक कम कर सकता है।

पश्चिमी देशों के इन आर्थिक प्रतिबंधों का रूस पर क्या असर होता है, यह आने वाले दिनों में ही ज्ञात होगा। मगर रूस के हमलों से जो त्रासदी हो रही है, वह यूक्रेन सहित पूरी दुनिया के लिए हर मामले में घातक सिद्ध हो रहा है।


बनारस और देश, दुनियाँ की ताजा ख़बरे हमारे Facebook पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें,
और Telegram चैनल पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें



You may also like !

मेरा गाँव मेरा देश

अगर आप एक जागृत नागरिक है और अपने आसपास की घटनाओं या अपने क्षेत्र की समस्याओं को हमारे साथ साझा कर अपने गाँव, शहर और देश को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो जुड़िए हमसे अपनी रिपोर्ट के जरिए. banarasvocalsteam@gmail.com

Follow us on

Copyright © 2021  |  All Rights Reserved.

Powered By Newsify Network Pvt. Ltd.