ताजा खबर
ए सतीश गणेश ने अपने कैम्प कार्यालय पर की आवश्यक बैठक।   ||    नीतू त्रिपाठी पर फायरिंग के मामले में आरोपियों को किया तलब।   ||    पॅाक्सो एक्ट के मामले में फरार चल रहे आरोपी गिरफ्तार।   ||    जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे के मुकदमें को सिविल जज के पास किया ट्रांसफर।   ||    जटिल ऑपरेशन कर 21 माह के मासूम के गुर्दे से निकाला पथरी।   ||    दस मिनट की निशुल्क जांच आपके बच्चों को अनाथ होने से भी बचायेगी। - राज्यपाल आनंदीबेन पटेल   ||    सकुशल संपन्न हुई जुमे की नमाज, जिला प्रशासन का रहा बड़ा सहयोग।   ||    ज्ञानवापी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई ।   ||    मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, हरियाणा का बदलेगा मौसम, जानिए क्या रहेंगे हालत   ||    नवजोत सिद्धू को जेल में 3 महीने बिना वेतन करना होगा काम, जानिए क्यों   ||   

स्नान-दान कर लोगो ने धूम धाम से मनाया मकर संक्रांति।

Posted On:Saturday, January 15, 2022

वाराणसी। भगवान भास्कर के उत्तरायण पर्व मकर संक्रांति इस वर्ष तिथियों के फेर-बदल के कारण 14 और 15 जनवरी दोनों दिन मनाई गयी। धर्मशास्त्र के अनुसार उदया तिथि 15 जनवरी को होने के कारण मकर संक्रांति का धर्म शास्त्रीय मान्य आज यानी शनिवार को है और आज के ही दिन स्नानदान का महत्व भी है। शास्त्रों के अनुसार आज के दिन भगवान सूर्य मकर राशि में प्रवेश करते हैं इसलिए मकर संक्रांति मनाई जाती है। लोक मानस के अनुसार 14 से ही स्नानार्थियों की भीड़ गंगा घाटों पर लगने लगी थी। कुछ स्नानार्थियों ने मान्यतानुसार 14 जनवरी को ही गंगा स्नान किया। लेकिन तिथि अनुसार 15 को घाटों पर स्नानार्थियों का जमावड़ा लगा रहा।

ऐसा कहा जाता है कि विधि-विधान से सूर्यदेव की पूजा करने से सभी मनोरथों की पूर्ति होती है। इसी दिन भगवान सूर्य स्वयं अपने पुत्र शनि से मिलने उनके घर जाते है। शनिदेव मकर राशि के स्वामी है इसलिए इस दिन को मकर संक्रांति कहा जाता है। इसी दिन गंगा भागीरथ के पीछे-पीछे चलकर कमिल मुनि के आश्रम से होती हुई सागर में जाकर मिली थी। मकर संक्रांति से सूर्य उत्तरी गोलार्द्ध की ओर आना शुभ होता है। इसी दिन से रात छोटी और दिन बड़े होने लगते है, और इसी के साथ गर्मी की शुरूआत हो जाती है।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, 14 जनवरी दिन शुक्रवार की रात 08:49 बजे सूर्य मकर राशि में किया। इसलिए मकर संक्रांति का पुण्य काल 15 जनवरी दिन शनिवार को दोपहर 12:49 बजे तक रही। इस स्थिति में मकर संक्रांति 15 जनवरी को मनाई गयी। 


बनारस और देश, दुनियाँ की ताजा ख़बरे हमारे Facebook पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें,
और Telegram चैनल पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें



You may also like !

मेरा गाँव मेरा देश

अगर आप एक जागृत नागरिक है और अपने आसपास की घटनाओं या अपने क्षेत्र की समस्याओं को हमारे साथ साझा कर अपने गाँव, शहर और देश को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो जुड़िए हमसे अपनी रिपोर्ट के जरिए. banarasvocalsteam@gmail.com

Follow us on

Copyright © 2021  |  All Rights Reserved.

Powered By Newsify Network Pvt. Ltd.