ताजा खबर
Shaniwar Ke Upay : चमकेगा भाग्य, सभी परेशानियां होंगी दूर, बस शनिवार के दिन करें ये उपाय   ||    365 दिन की वैलिडिटी वाला किसका रिचार्ज प्लान सबसे सस्ता?   ||    Shukrawar Ke Upay: शुक्रवार के दिन पूजा के समय करें ये चमत्कारी उपाय, घर चलकर आएंगी मां लक्ष्मी, देख...   ||    Shukrawar Ke Upay: शुक्रवार के दिन पूजा के समय करें ये चमत्कारी उपाय, घर चलकर आएंगी मां लक्ष्मी, देख...   ||    ईडी के समन के खिलाफ केजरीवाल की याचिका उच्च न्यायालय ने 9 सितंबर के लिए सूचीबद्ध की   ||    Sakar Vishwa Hari: कुंवारी लड़कियां ही बनती शिष्या, लेनी पड़ती है खास दीक्षा, भोले बाबा पर चौंकाने व...   ||    Delhi: बेटा नहीं हुआ तो नवजात जुड़वां बच्चियों को भूखा रखकर मार डाला, गिरफ्तार हुआ दरिंदा पिता   ||    IMD Weather Forecast Today, आज का मौसम 11 जुलाई LIVE: 13 जुलाई तक देशभर में बारिश का अलर्ट, दिल्ली-ए...   ||    लापता होने के 9 महीने बाद मिले सेना के 3 जवानों के शव, बर्फ के पहाड़ में थे दबे   ||    ग्रेटर नोएडा: गाजे-बाजे से साथ निकली गाय की अंतिम यात्रा, अर्थी को गुब्बारों से सजाया   ||   

300 फीट गहरे बोरवेल में गिरी 3 साल की मासूम बच्ची की हुई मौत, जानिए पूरा मामला

Photo Source :

Posted On:Thursday, June 8, 2023

मुंबई, 8 जून, (न्यूज़ हेल्पलाइन)। मध्यप्रदेश के सीहोर के मुंगावली गांव में 300 फीट गहरे बोरवेल में गिरी बच्ची जिंदगी की जंग हार गई। 3 साल की मासूम सृष्टि को करीब 52 घंटे बाद बोरवेल से बाहर निकाला गया। रेस्क्यू टीम ने उसे रोबोटिक टेक्निक से बाहर खींचा। बच्ची कोई रिस्पॉन्स नहीं कर रही थी। उसे एंबुलेंस से सीधे जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया। बच्ची 150 फीट की गहराई पर फंसी थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व सीएम कमलनाथ ने बच्ची के निधन पर दुख जताया है। तो वहीं, एसपी मयंक अवस्थी ने बताया कि दुर्भाग्यपूर्ण घटना घटित हुई है। इस मामले में वैधानिक नियमों के अनुसार कार्रवाई की जा रही है। बोर मालिक और बोर कर्ता पर केस दर्ज किया गया है। धारा 181 और 308 आईपीएस के तहत एफआईआर दर्ज की है। पीएम रिपोर्ट के बाद धारा 304 का इजाफा कर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

दरअसल, सृष्टि नाम की 3 साल की ये बच्ची खेलते-खेलते खेत में बने बोर में गिर गई थी। उस वक्त वह 29 फीट गहराई पर अटक गई थी। लेकिन रेस्क्यू के दौरान हुई खुदाई के कंपन से वह नीचे खिसकती गई। मौके पर SDRF, NDRF और आर्मी की रेस्क्यू में जुटी थी। गुरुवार को सुबह 9 बजे दिल्ली की रोबोटिक टीम ने भी मौके पर पहुंचकर ऑपरेशन शुरू किया। दोपहर बाद तेज हवा और बारिश होने से रेस्क्यू प्रभावित भी हुआ। रोबोटिक टीम ने शाम करीब साढ़े 5 बजे बच्ची को बाहर निकाला। साथ ही रोबोटिक टीम के प्रभारी महेश आर्य ने बताया कि रोबोट को बोरवेल में डाला था, उससे मिले फर्स्ट डेटा को स्कैन किया गया। इससे पता चला कि बच्ची की क्या हालत है और किस प्रकार से रेस्क्यू करना चाहिए। रेस्क्यू ऑपरेशन से जुड़े एक अफसर ने बताया कि बच्ची 150 फीट गहराई में पानी में थी। जिला पंचायत CEO आशीष तिवारी ने बताया कि 3 सदस्यों की टीम दिल्ली से रातभर ड्राइव कर सड़क मार्ग से सीहोर पहुंची। इस टीम ने कुछ दिनों पहले जामनगर में ऐसे ही मामले में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया था, जिसमें उन्हें सफलता मिली थी।


बनारस और देश, दुनियाँ की ताजा ख़बरे हमारे Facebook पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें,
और Telegram चैनल पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें



You may also like !

मेरा गाँव मेरा देश

अगर आप एक जागृत नागरिक है और अपने आसपास की घटनाओं या अपने क्षेत्र की समस्याओं को हमारे साथ साझा कर अपने गाँव, शहर और देश को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो जुड़िए हमसे अपनी रिपोर्ट के जरिए. banarasvocalsteam@gmail.com

Follow us on

Copyright © 2021  |  All Rights Reserved.

Powered By Newsify Network Pvt. Ltd.